web analytics

बिहार के बजट में फेर विधायक निधि शुरु हो गइल हाथ घुमा के

बिहार के विधायक निधि बहुते हल्ला कर के हटावल गइल रहे कि एहसे भ्रष्टाचार पसरत रहे. बाकिर कहल गइल बा कि चोर चोरी से जाई त जाई तुंम्बाफेरी से ना जाई. अब ओहि तरह के योजना फेर शुरु हो रहल बा. आजु पेश बजट में छह सौ चौवालिस करोड़ रुपिया विधायक लोग के मनपसन्द योजना चलावे खातिर राखल गइल बा. योजना के नाम बा मुख्यमंत्री क्षेत्र विकास योजना. आजु के पैंसठ हजार तीन सौ पच्चीस करोड़ रुपिया के बजट में सताइस हजार पाँच सौ दू करोड़ रुपया योजना पर खर्च होखी. धान, चाउर, आटा, सूज्जी, मैदा, गेंहू वगैरह पर से कर हटा के विलासिता के सामान पर वैट बढ़ा दिहल गइल बा. घर का बाहर आयोजित होखे वाला कवनो समारोह पर दस फीसदी विलासिता कर लागी. बड़का व्यापारियन खातिर ई फाईलिंग अनिवार्य बना दिहल गइल बा.

 52 total views,  2 views today

%d bloggers like this: