बकरीद सताईस अक्टूबर के

काल्हु ईद उल जुहा के चाँद देखला का बाद मौलना लोग एलान कइले बा कि अबकी के बकरीद सताइस २७ अक्टूबर के मनावल जाई.