बसपा में सतीश मिश्रा के भाव बढ़े के संकेत

मायावती तीन साल पहिले जब एगो सभा में कहले रहली कि सतीश मिश्रा का जिम्मे बस पार्टी के अदालती काम देखे के रही आ राजनीतिक मसला में उनकर कवनो भूमिका ना रही त लोग एकरा के एह बात के सकेत समुझल कि पार्टी में सतीश मिश्रा के हैसियत कम हो गइल बा. बाकिर समय बीतला का बाद लागत बा कि सतीश मिश्रा के हैसियत कुछ बढ़िए गइल बा एह बीच आ अब पार्टी के हर फैसला में उनकर राय लिहल जात बा. आ अब सतीश मिश्रा के एह बात के जिम्मेदारी दिहल गइल बा कि ऊ बसपा से छिटकल ब्राह्मणन के फेरू से बिटोरस.