शौहर के बीमा पर आपन हक जतवली जियाउल हक के बेवा

प्रतापगढ़ के कुंडा में मराइल सीओ जियाउल हक अपना निकाह से पहिले दू गो बीमा करवले रहुवन. एगो के नामिनी महतारी के आ दोसरका के नामिनी बाप के बनवले रहुवन. जियाउल हक के मरइला पर यूपी सरकार जियाउल हक के बीबी परवीन आजाद के नौकरी आ बीस लाख रुपिया दिहलसि. साथ ही जियाउल के भाई के नौकरी आ बापो के बीस लाख रुपिया मिलल. अब जियाउल हक के बीमा के धन पर बेवा परवीन आजाद हक जता दिहले बाड़ी जवना चलते बाप आ महतारी के ऊ धन ना मिल पावल आ अब मामिला कोर्ट कचहरी में खिंचाई. परवीन के कहना बा कि हम बीबी हईं त बीमा के रुपिया हमरे के मिले के चाहीं बाप महतारी के ना. वाह रे दुनिया!

जियाउल हक देवरिया के जुआफर गाँव के रहलन जहाँ निकाह का बाद एक बेर गइल परवीन दुबारा ना गइली.