बतावल जात बा कि कांग्रेस चाहत बिया कि बिहारे जइसन कवनो खिचडी झारखंडो में पका लिहल जाव बाकिर ओकर दाल गलत लउकत नइखे. लालू आ नीतीश का पता रहे कि बिना मिलले बाचल संभव ना हो पाई बाकिर झारखंड मुक्ति मोर्चा का लगे अइसन कवनो मजबूरी नइखे. उ अकेले चुनाव लड़ी. जीतल तबो ठीक हारल त कवनो ना कवनो गठबन्हन में शामिल हो जाई. आ झारखंद में ओकरा बिना कवनो गठबन्हन बनिए ना सके.

By admin

%d bloggers like this: