भोजपुरी में देश दुनिया के खबर (मंगल, 19 मई 2015)

  • तीन देशन के यात्रा पर निकलल पीएम मोदी काल्हु दक्खिन कोरिया में भारतीय समुदाय के संबोधित करत कहलन कि ऊ मक्खन पर ना पत्थर पर लकीर खींचेले. काहें कि उनुका सोझा देश के सवा सौ करोड़ लोग ले विकास चहुँपावे के बा. कहलन कि ऊ ओह लोगन में से ना हउवन जे अपना ला आसान राह चुनेला. ऊ त चुनौतियन का बीच आपन राह निकालल जानेलें.
  • अपना अस्तित्व खातिर लड़त नीतीश कुमार के कहना बा कि जदयू के जनता परिवार में विलय करे के फैसला आखिरी बा आ एकरा के क के देखावल जाई. कहलन कि विलय का राह में आइल तकनीकि बाधा पार करे के कोशिश कइल जात बा. असल में नीतीश जानत बाड़न कि अपना गलत फैसला से ऊ बिहारे के ना अपनो के मुसीबत में डाल लिहले बाड़न आ लाजे साँच मान नइखन पावत. ओने राजद जदयू के मजबूरी जानत हालात के पूरा दूह लेबे के फेर में लागल बावे. लालू के राजद बिहार में अपना के सबले बड़का दल मान के चलत बा आ ओकरा हिसाब से कवनो गठबन्हन में ओकर बात चले के चाहीं.
  • सोमार का साँझे आइल आन्ही बरखा का बीच ठनका गिरला से बलिया के सुरहा ताल का लगे शिवपुर गाँव का एगो मड़ई मे बरखा से बाचे खातिर लुकाईल डेढ़ दर्जन लोग झँउस गइल.
  • रंगदारी वसूले खातिर दबाव बनावत बदमाश मऊ ज चिरैयाकोट में एगो बाईक के शो रुम पर गोली चला के दहशत पसारे के कोशिश कइलन. फायरिंग का बाद शो रुम के मुनीम के फोन क के फेरू रंगदारी देबे खातिर हड़कवले सँ. एह सब से नाराज लोग सड़क जाम क दीहल जवना के अपर पुलिस अधीक्षक के भरोसा दिअवला का बाद हटावल गइल.
  • झूठ का सहारे आपन राजनीति चमकावे के कोशिश करे में लागल राहुल गाँधी बार बार अमेठी के फूड पार्क रद्द होखे के सवाल उठावत बाड़न. जबकि ई फूड पार्क उनुके महतारी सोनिया गाँधी के इशारा पर चले वाला सरकार के शासन में रद्द क दीहल गइल रहे. बाकिर राहुल गाँधी के बयान के सूई एही बात पर अटकल बा कि मोदी सरकार अमेटी के लोग से बदला निकालत बिया.
  • आम आदमी का बीच एह बात के चरचा आम हो गइल बा कि नेताजी सुभाष चन्द्र बोष के हत्या जवाहर लाल नेहरू के शासन काल में स्टालिन से करवा दीहल गइल रहुवे आ एही चलते नेताजी के मौत से जुड़ल बात के जगजाहिर ना होखे दीहल गइल. अब पता ना कवना मजबूरी में मोदीओ सरकार एह बात से कन्नी काटत लउकत बिया. नेताजी के परपोती राजश्री अब एह मुद्दा पर देश भर में अभियान चलावे के योजना बनवले बाड़ी जवना के नेताजी के ड्राइवर रहल कर्नल निजामुद्दीन के अगुअई में चलावल जाई.
  • दिल्ली के उपराज्यपाल से बेमतलब के रार बेसहले केजरीवाल आजु आपन ओरहन ले के राष्ट्रपति का दरबार में हाजिरी लगइहें. पिछला बेर त राष्ट्रपति केजरीवाल के भारत के संविधान उपहार में दिहले रहले. इशारा रहुवे कि बाबू पहिले संविधान पढ़ ल. बाकिर केजरीवाल पर कुरसी के नशा अइसन चढ़ल बा कि उनुका लागत बा कि दिल्ली में सबकुछ उनुके हिसाब से चले के चाहीं.
  • मुंबई के एगो अस्पताल में रेप के शिकार बनल आ बाद में मरल जइसल हाल में चल गइल नर्स अरुणा शानबाग के मौत घटना के 42 साल बाद काल्हु हो गइल. एह बीच उनकर जिनिगी मरलो से बदतर रहुवे आ बाकी नर्सन के कई पीढी अपना लगातार मेहनत से उनुका के अतना दिन ले जिअवले रखली. बाकिर नियति आखिर में जीत गइल आ अरूणा के एह नरक से मुक्ति मिल गइल.
  • अतना बरीस बाद अब अमेरिको के राष्ट्रपति ट्विटर पर आइए गइलन. उनकर ट्विटर हैंडल ह @POTUS (प्रेसीडेंट ऑफ़ द यूनाइटेड स्टेट्स) आ बनते आधा घंटा का भितरे उनकर फालोवरन के गिनिती एक लाख के पार चल गइल.
  • देश के कवनो आदिवासी महिला के पहिला बेर राज्यपाल बनावल गइल बा. ओडिशा के आदिवासी महिला राजनीतिज्ञ द्रौपदी मुर्मू के सोमार का दिने झारखंड के राज्यपाल के किरिया धरावल गइल.
  • पुलिस के जानकारी मिलल बा कि नक्सली अब हेलीकाप्टर बनावल चाहत बाड़े. ओकनी के एगो चिट्ठी हाथे लागल बा जवना में एगो नक्सली नेता अपना हाई कमान से एह बाबत पइसा आ इजाजत मँगले बावे. चिट्ठी में लिखल बा कि एगो मेकानिक हीरो होण्ड मोटर साइकिल के दू गो इंजन से काम चलाऊ हेलीकाप्टर बना सकेला जवना से आदमी आ सामान ढोवल जा सकेला.
  • बिहार सरकार के विभाग बिहार के विधायकन के महँग महँग उपहार देबे में लागल बाड़े. पिछला सत्र में 19 गो विभागन का तरफ से विधायकन के मोबाईल फोन, टैबलेट आ घड़ी बाँटल गइल. छोट छोट बात पर एक दोसरा के खिलाफत करे वाला सगरी विधायक चुपचाप एह उपहारन के सम्हारत गइले आ कतहीं केहु के विरोध के आवाज सुनाई ना दीहल कि संसाधन के कमी के रोना रोवत बिहार सरकार के विभाग अइसन उपहार काहे बाँटत बाड़े.
  • सुप्रीम कोर्ट से यूपी सरकार के राहत मिल गइल. इलाहाबाद हाई कोर्ट यूपी सरकार से पिछला दू साल में वापिस लीहल गइल मुकदमन के जानकारी जमा करावे के कहले रहुवे जवना का खिलाफ गोहार ले के यूपी सरकार सुप्रीम कोर्ट चहुँपल रहुवे. अब ओहिजा से हाई कोर्ट के आदेश पर रोक लगा दीहल गइल बा.