web analytics

भोजपुरी खातिर आठवाँ धरना : दिल्ली के संसद मार्ग पर जुटले भोजपुरिया

भोजपुरी जन जागरण अभियान के बैनर तरे अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस के दिना 21 फरवरी 2018 के दिल्ली के संसद मार्ग पर भोजपुरी भाषा के संविधान के आठवीं अनुसूची में शामिल करावे खातिर विशाल शांति पूर्ण धरना के आयोजन कइल गइल. भलहीं भोजपुरियन के ई शांतिपूर्ण धरना रहे बाकिर ई धरना शांतिए शांति में केन्द्र सरकार के झकझोरे लायक ओकर नींव हिलावे के उतजोग खडा कर दिहलसि.
एह धरना में झारखण्ड, बिहार, उतर प्रदेश, मध्यप्रदेश, अउर महाराष्ट्र के अलावा अमेरिको से भोजपुरिया लोग अपना अपना संगठन के बैनर लेके एह अभियान के साथ कदम से कदम मिला के ई सन्देश देवे के प्रयास कइलसि कि अब सरकार के कुछ करे के पड़ी. अपना संबोधन में राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष पटेल कहलें – सरकार के अब चेत जाए के होई, खाली लौली पॉप से काम ना चली. अगर सरकार कुछ ना करी त हमनी के उग्र आंदोलन के तइयारी करे के पड़ी.
उहें भोजपुरी खातिर निरंतर लागल इग्नू के डॉ शत्रुघ्न कुमार मंच से कहनी कि संसद में भोजपुरिया 80 गो सांसद बाड़े आ वर्तमान में सरकार के चित भी अपने बा आ पट भी अपने. एकरा साथही माननीय प्रधानमंत्री आ गृह मंत्रीओ भोजपुरिया क्षेत्र से जीत के संसद में बइठल बा लोग त 25 करोड़ भोजपुरी भाषा भाषी लोग के साथ धोखा काहें ? आगे उहां के कहनी कि सरकार के अब आपन मनसा साफ़ करे के होई. मंच से एक लाइन भोजपुरी बोलके भोजपुरियन के साथ धोखा से काम ना होई आ ना एकरा के भोजपुरिया सहन करीहें.
पूरा खबर विस्तार से अँजोरिया (anjoria.com) पर मौजूद बा.

 19 total views,  2 views today

%d bloggers like this: