web analytics

कोरोना का चलते यूपी में सौ इलाकन के घेराबन्दी

लात के भूत बाति से ना माने वाला कहाउत के साँच करत जमातियन के जिद से आजिज योगी सरकार राज्य के करीब 104 इलाकन पर भिलवाड़ा मॉडल के सख्ती आजु राति से लागू कर दिहलसि. अब एह इलाकन में ना त केहू बाहर से भीतर जा सकी ना केहू कवनो बहाना से भीतर से बाहर निकत पाई. एह इलाकन में कवनो दुकान, ठेला लगावे के इजाजत ना होखी. ना त बैंक खुलीहें सँ ना एटीएम काम करी. दूध, फल, सब्जी, दवाइओ ले आवे ला केहू के बाहर निकले के इजाजत ना दीहल जाई. जरुरत के सामान लोग पुलिस के फोन क के मँगवा सकी आ सरकार के आदमी एह सामानन के ओकरा घरे चहुँपा दिहें.
घेराबन्दी वाला ई 104 इलाका प्रदेश के 15 जिला में बाड़ी सँ.
एह पन्द्रह जिलन में लखनऊ, वाराणसा, बस्ती, महाराजगंज, का अलावे नोएडा, आगरा, गाजियाबाद, कानपुर, मेरठ, बरेली, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, आ सीतापुर शामिल बाड़ी सँ.
एह इलाकन में मीडियो के आवाजाही ना हो पाई. लॉकडाउन का दौरान जारी सगरी पास निरस्त क दिहल गइल बा.
जान जाईं कि लॉकडाउन के सगरी इन्तजामन के बरबाद करत तबलीगी जमात के मरकज में शामिल लोग जानबूझि के इलाज ला सामने नइखन आवत. खुद तो डुबेंगे सनम तुमको भी डुबाएँगे वाला लाइन धइले ई जमाती पहिले त सामने आ के जाँच नइखन करावत. जिनकर जाँच हो गइल बा ऊ कोरेन्टाइन में अपना डॉक्टर नर्सन के जिनिगी उच्छीनर क दिहले बाड़ें. दोसरा के देह पर थूकल, अस्पताल वार्ड में लंगटे घूमल, बरामदा में टट्टी पैखाना करे आ बोतल में भर के पेशाब फेंके के घनाह हरकत करत बाड़ें. मरकज का चलते कोरोना चौगुना रफ्तार से पसरे लागल बावे.
यूपी सरकार स्वास्थ्य विभाग जइसन बीमा पुलिसो वालन के करावे के एलान कइले बिया. अब पुलिसो के 50 लाख के बीमा करावल जाई.
साथही आदेश हो गइल बा कि लॉकडाउन में बाहर निकले वाला लोग मुँहजाबी जरुर लगा के चलो ना त ओह लोग के दण्डित कइल जाई.

 58 total views,  2 views today

%d bloggers like this: