Go to ...
RSS Feed

हाथरस : बंटी बबली के जोड़ी आ गिरोहन के रुपिया


जबसे यूपी का हाथरस में देश विरोधी गिरोहन के एगो मौका लउकल बा तबसे देश विरोधी गिरोह पूरा ताकत झोंक दिहले बाड़ें एह मामला पर आग लगावे खातिर.

बाकिर देश आ खास क के यूपी के लोग एह देश विरोधी-अपराधी-मजहबी साजिश के बढ़िया से जान ले लें बाड़ें जवना चलते ईहो साजिश तार-तार होखे जा रहल बा.

सोशल मीडिया पर आम चरचा बा कि जबसे योगी सरकार माफिया गिरोहन पर आपन अंकुशा कसल शुरु कइले बिया तबसे ई लोग बेचैन बा. अब हाथरस मामिला में कहल जात बा कि कुछ भाँड़ मीडिया चैनलन आ ओकरा पत्तलकारन के करीब सौ करोड़ रुपिया के फंडिंग कइल गइल बा. एही चलते ई मीडिया वाले बेमतलब बवाल करे में लागल बाड़ें. एगो ऑडियो सामने आइल बा जवना में अइसने एगो खबरंडी लइकी के भाई के सिखावत बिया कि ओकरा बतावल तरीका से बयाल देव त ओकरा के पचास लाख रुपिया मिल सकेला.

सुने में त इहो आवत बा कि योगी सरकार अइसनका कुछ पत्तलकारन का खिलाफ रासुका लगावे के तइयारी करत बिया.

दुख के बात बा कि देश विरोधी गिरोहन के साजिश का बहकावा में आ के कई एक बेवकूफ हिन्दुओ ओहनिए के भासा बोले लागल बाड़ें. अइसनका लोग के अपना निजी छवि के चिन्ता रहेला आ ना चाहसु कि उनुका के केहू पक्षपाती मानो-कहो.

समय के माँग बा कि अपना निजी लाभ-हानि के चिन्ता कइला बिना राष्ट्र के चिन्ता करीं आ चालबाजन के चाल समुझे के कोशिश करीं.

अगर दलित हिन्दू लइकी के बलात्कार के मुद्दा बनावे के बा त बलरामपुर के दलित हिन्दू लइकी के का अपराध बा कि ओकरा ला केहू नइखे बोलत. कांग्रेस शासित राज्यन में भा गैर हिन्दू बलात्कारियन के सह दीहल जा रहल बा. अगर आरोपी मुसलमान बा त ना त मीडिया ओकर नाम ली ना ई देश विरोधी गिरोह. एह बाति के समुझे के कोशिश करीं.

गलत हर हाल में गलते रही. विशेष परिस्थिति आ विशेष समुदाय के अपराधी होखला का चलते ओकरा के सही मानल भा छोट सामान्य घटना बनावे-बतलावे के कोशिश चालबाजी कहाई. चालबाजन के चाल में फँसला के जरुरत नइखे.

Tags: , ,

More Stories From अपराध

%d bloggers like this: