Go to ...
RSS Feed

भाजपाई बहारन यशवंत सिन्हा तृणमूल का घूरा पर


डूबते को तिनके का सहारा कहावत के सही साबित करत भाजपा के बहारन, बाकिर कबो बाजपेयी सरकार में उनुकर वित्त मंत्री रहल, यशवंत सिंहा आजु तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गइलन.

उनुका एह फैसला से तृणमूल के भा खुद यशवंत के का फायदा होथे जा रहल बा एकरा के त कवनो बड़का राजनीतिक गुरु घंटालो निकहा ना समुथा पइहें. बाकिर ममता के छोड़ के भाजपा में शामिल होखत सांसदन-विधायकन के भीड़ का बीच कुछ तोस जरुर मिल जाई तृणमूल के. आ यशवंतो शायद एही तिनका का सहारे घूरा के दिन फिरे के अनुमामन लगवले होखीहें.

एएनए के ट्वीट में यशवंत बतावत बाड़ें कि कंधार विमान अपहरण कांड में ममता अपना के बंधक राखे के प्रस्तवा दिहले रही. अब एह प्रस्ताव के ना माने के अफसोस भाजपा के होखत होखी. बाकिर इहो हो सकेला कि अपहरण कर्ता ममता के बंधक माने ला तइयार ना भइल होखल होइहें स.

यशवंत के एह बयान का बाद टि्वटर पर मीमन के बाढ़ आ गइल बा.

कुछ नमूना नीचे दीहल जात बा –

😂 pic.twitter.com/Yaukk0dB6b— the jadooguy (@JadooShah) March 13, 2021

BJP should always remember that opportunities don’t come knocking on the door everyday. When people like @MamataOfficial didi offered herself as an exchange for any damn thing, it should have been grabbed with both hands. BJP is still repenting for it even after almost 2 decades.— Raju (@nbrengaraju) March 13, 2021

pic.twitter.com/SH3hwAGSav— दलीप पंचोली🇮🇳 (@DalipPancholi) March 13, 2021

Tags: , , ,

More Stories From चुनाव

%d bloggers like this: