भाजपा नेतृत्व एह घरी जवना कायराना अंदाज में अपना विरोधियन का सोझा नवल नजर आवत बा ओकरा से ई साफ हो गइल बा कि ओकर नेतृत्व सत्ता पावे के साधन भर मानेला अपना समर्थकन के आ काम निकलते ओकरा ओरि से आपन आँख मूंद लेबेला. पश्चिम बंगाल के चुनाव का पहिलहीं से सभही जानत रहुवे कि ई चुनाव बंगाल के हिन्दुवन ला जीवन मरण के सवाल बने वाला बा आ एही चलते बहुते लोग भाजपा का साथे आइल. बाकिर चुनाव बीतते जवना तरह से बंगाल में हिन्दुवन पर अत्याचार हो रहल बा ओकरा तरफ से भाजपा के मुँह फेरल अधिका दुखदायी लागत बा. मीडिया आ न्यायपालिका से त कवनो उमेदे ना कइल जा सके बाकिर भाजपा के मोदी आ शाह के जोड़ी जवना तरह बंगाल के हिन्दुवन के टूअर बना के रख दिहले बा ओकरा बाद अगर चिराग पासवान ई सोचत होखसु कि भाजपा अपना हनुमान के मान राखे ला सामने आई त उऩुका ले बड़हन बेवकूफ दोसर केहू ना होखी.
जवन गोल अपना लाखन हनुमानन के जान बचावे सामने आवे से कतरात बा ऊ एगो अकेला हनुमान के मान बचावे आगे ना आई. आ भाजपा के सगरी दुश्मन आ साथी दुनु ओकरा एह कमजोरी के बढ़िया से जान लिहले बाड़ें. तय बा कि नीतीश कुमार देर सबेर भाजपा के साथ छोड़बे करीहें बाकिर भाजपा उनुकर साथ देबे ला मजबूर बन के काम करत बिया. बात केहू माने भा ना बाकिर ईहो साँचे होखी कि चिराग भाजपा का शहे पर नीतीश से पंगा लिहले रहुवन. उनुको मालूमे रहल होखी कि अगर ई साँप जिन्दा बच निकली त डँसबे करी आ उहे हो रहल बा. पहिले त नीतीश लोजपा के अकेला विधायक के अपना में मिला लिहलें ओकरा बाद अकेला पार्षदो के उहे गति भइल. अब चाचा के चढ़ा के भतीजा के मान मर्दन करे खातिर हथियार बना लिहले बावे नीतीश के गोल. पशुपति पारस अपना भाई के मरला का बाद जवना तरह उनुका वारिस के निपटावे में लागल बाड़ें ओकर कतनो निंदा कइल जाई कमे रही.
आखिरी उमेद चिराग पासवान खातिर एके गो पा कि जुझारु पासवान समाज अपना रामविलास के वारिस का साथे अन्याय करे वालन के साथ ना दी.

By admin

%d bloggers like this: