Go to ...
RSS Feed

मीडिया के अजगरन का बीच के चन्दन ना रहलें


(टटका खबर, बियफे, भादो अन्हरिया 2078 विक्रमी)

राष्ट्रवादी पत्रकार, अंग्रेजी दैनिक द पायनियर के संपादक, आ दू बेर के राज्यसभा सांसद चन्दन मित्रा के बुध का देर राति (2 सितंबर 2021) कुछ दिन से चलल आ रहल बीमारी का चलते गंगा लाभ हो गइल. 12 दिसंबर 1955 के जनमल चन्दन मित्रा अगस्त 2003 से अगस्त 2009 ले राज्यसभा के मनोनीत सदस्य रहलें. बाद में दून 2010 में उनुका के मध्यप्रदेश से चुन के भाजपा दुबारा राज्यसभा सांसद बनवलसि. बाद में ऊ ममता बनर्जी के तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गइल रहलन.

कोलकाता के ल मर्टिनियर से पढ़ाई कइला का बाद दिल्ली के सेंट स्टीफेंस कॉलेज से स्नातक भइलें. आक्सफोर्ड युनिवर्सिटी से डॉक्टरेट करे वाला चन्दन मित्रा कई एक अखबारन से जुड़लें. कोलकाता के दि स्टेट्समैन, दिल्ली के टाइम्स ऑफ इण्डिया, संडे आब्जर्वर से होखत ऊ हिन्दुस्तान टाइम्स अखबार के संपादक बनलें. बाद में दि पायनियर अखबार के संपादक बनलें आ जब अखबार के मालिक एलएम थापर घाटा का चलते अखबार बेचे चललन त मित्रा ओकरा के खरीद लिहलन.

दुर्भाग्य से उनुकर मौत ओह दिने भइल जवना दिने हजारो हिन्दुवन के हत्यारा, देशद्रोही ग्लानिओ के मौत भइल आ सूअर प्रेमी मीडिया ओही खबर में अझूराइल रहि गइल आ अजगरन का बीच के चंदन के पेड़ उखड़ल ओकरा खातिर कवनो खबर ना बनि पावल.

Tags: ,

More Stories From देश-दुनिया

%d bloggers like this: