web analytics

ता उपर सुलतान है मत चूको चौहान : काल्हु के शेयर बाजार

चार बाँस चौबीस गज अँगुल अष्ट प्रमाण ।
ता उपर सुलतान है मत चूको चौहान ।

पृथ्वीराज चौहान से जुड़ल इतिहास में दर्ज एह कविता मे आन्हर बना दीहल गइल हिन्दू राजा पृथ्वीराज चौहान के जब तीर चलवे के मौका मिलल तब उनकर राजकवि चन्दबरदाई इहे लाइन सुनवले रहलें जवना से राजा पृथ्वीराज के पता चल गइल रहे कि सुल्तान गौरी कहवाँ बइठल बा आ ओही अेदाज लेके तीर चलवलें जवन गौरी के जान ले लिहलसि.

रउऱो चउँकत होखब कि शेयर बाजार के बात करत हम ई इतिहास में काहे चल गइनी. त हम बस इहे बतावल चाहत बानी कि ढेर दिन से जवना लक्ष्य के ट्रेडर तिकवत रहलें ऊ अब चउँपही वाला बा. निफ्टी 18000 के मनौवैज्ञानिक निशान पर अब तहुँपल कि तब वाला हालत में बा. 18000 के निशान पार कइला पर दू बात हो सकेला. एक त मुनाफा वसूली के दौर चल सकेला जवना का बाद बाजार फेरु नीचे गिर सकेला. भा इहो हो सकेला कि ओकरा बाद बाजार उछाह में आ जाव 18200 के रेखो पार कर लेव.

काल्हु 13 सितम्बर 2022 के दिन बाजार खातिर खास रहे वाला बा काहें कि बाजार एगो महत्वपूर्ण मोड़ पर आ गइल बा. 15200 से चलल बाजार 18000 का लगे चउँपही वाला बा आ करीब 20 फीसदी के तेजी का बाद दुनु तरफ जा सकेला. एहसे बिकवाल आ लिवाल दुनु ला ई बिन्दु खास रहे वाला बा. कई दिन से 18000 का बिन्दु पर सवले बेसी कॉल बेच के बइठल बाड़ें मंदी के लड़वईया जिनका लागत रहे कि ई निशान अबहीं छुआए वाला नइखे. अब उनकर इम्तहान के घड़ी बा. 18000 पार कइला का बाद जम के शॉर्ट कवरिंग होखे के उमेद बा. देखल जाव कि का होखत बा.

बाजार जइसन रहे के होखी वइसन रहबे करी. आजु हम धुरी बिन्दु pivot point आ ओकरा आधार पर बने वाला संकेतक के चरचा करे जात बानी.

धुरी बिन्दु भा पाइवॉट प्वांयट से अवरोध आ आधार के गणना कइल जाला. एकरा के डे ट्रेडर खूब इस्तेमाल करेलें. हर चार्ट पर ई संकेतक उपलब्ध बा आ ओकरा खातिर कुछ जोड़ घटाव करे के जरुरत ना पड़े. बाकिर आईं जानल जाव कि एकर गणना होखेला कइसे.

उदाहरण खातिर आजु 12 सितम्बर 2022 का दिने निफ्टी-50 खुलल 17890.55 अंक पर. आजु के शिखर बिन्दु रहल 17980.55 आ सबले निचला बिन्दु रहल 17889.15. आखिर में बाजार बंद भइल 17936.35 पर. अब एही अँकन से धुरी के गणना कइल जाला –

धुरी बिन्दु जाने के फार्मूला नीचे दे देत बानी.
R2=P+(High−Low)
R1=(P×2)−Low
P = (High+Low+Close)/3
​S1=(P×2)−High
S2=P−(High−Low)

अगर आजु के आंकड़ा एह फार्मूला में भरल जाव त –

अवरोध 2 (R2) =17935+(17980−17889) = 18026
अवरोध 1 (R1) =(17935×2)−17889 = 17981
धुरी बिन्दु (P) = (17980+17889+17936)/3 = 17935
​आधार 1 (S1) =(17935×2)−17980 = 17890
आधार 2 (S2) =17935−(17980−17889) = 17844

कहे के मतलब कि काल्हु के बाजार 17935 का उपर खुलल त पहिला अवरोध 17981 पर आ दुसरका अवरोध 18026 पर मिले वाला बा. आ कहीं 17935 का नीचे खुलल त पहिला आधार बिन्दु होखी 17890 पर आ दुसरका आधार मिली 17844 पर.

अगर काल्हु बाजार 18026 पार कर जाई त बेतहाशा दउड़ सकेला आ अगर 17844 का नीचे गइल त ढिमलाहूं के कवनो सीमा नइखे.

हर बेर का तरह आजुओ दोहरावत बानी कि हर संकेतक का तरह एहू संकेतक के कवनो गारंटी ना होले. बस एगो अंदाजा देला कि आधार बिन्दु से नीचे खुलल त पहिलका आधार छू सकेला आ ओकरो नीचे गइल त दुसरका आधार. आ ओकरो के तूड़ दिहलसि त भगवाने के मालूम होखी कि कहाँ जा के रुकी.

एकरा उलट अगर 17981 के पहिला अवरोध पार कइलसि त 18026 का तरफ बढ़ी आ अगर ओकरो उपर चढ़ल त छप्पर फाड़त दे सकेला.

आखिर में फेरु धिरा देत बानी कि हमरा भा केहू का कहला पर कवनो सौदा कइल बेवकूफी होखी अगर ऊ रउरा हिसाब से सही नइखे. एह लेखन के शिक्षा का श्रेणी में राखीं. ओह ज्ञान के उपयोग रउऱा कवना तरह करत बानी ई रउऱा पर बा. शिक्षक पूरा कक्षा के एके बात पढ़ावेला बाकिर ओही में केहू शिखर छू लेला आ केहू फेल हो जाला.

 362 total views,  3 views today

%d bloggers like this: