Go to ...
RSS Feed

अंजली श्रीवास्तव

सिनेमा के रतौंधी एगो अउर बलि लिहलसि

कच्चे धागे, दम होई जेकरा में ऊहे गाड़ी खूंटा, लहू के दो रंग, दिवानगी हद से, केहू त दिल में बा, हमरा दारू ना मेहरारू चाही वगैरह अनेके भोजपुरी फिलिमन में काम कर चुकल चंचल चितवन, खनकत हँसी आ मोहक अदा से मोहित कर लेबे वाली अभिनेत्री अंजली श्रीवास्तव मुंबई के अपना डेरा मे फाँसी