web analytics

एक दिन बिक जायेगा माटी के मोल खातिर राजकपूर एक हजार रुपिया दिहले रहले

मजरुह सुल्तानपुरी के जनमदिन 01 अक्तूबर पर खास महान शायर आ गीतकार मजरूह सुल्तानपुरी के उनकर लिखल गीत “एक दिन बिक जायेगा माटी के मोल” खातिर शोमैन राजकपूर एक हजार रुपिया दिहले रहले. पचास के दशक में अपना वामपंथी रुझान का चलते मजरूह के जेल जाए पड़ल रहे आ दू साल जेल में रहला का … Read more

 295 total views