Go to ...
RSS Feed

मध्यप्रदेश

हिन्दू एक हो जासु त कवनो ताकत हरा ना सकी मोदी के

पन्ना, 03 जून (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुकल बड़का कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह के कहना बा कि कांग्रेस नेता एकजुट हो जासु त उनुका गोल के कवनो ताकत हरा ना सकी. प्रदेश कांग्रेस समन्वय समिति के प्रमुख दिग्विजय सिंह ई बाति गुटबाजी से जुड़ल सवाल का जवाब में कहलन. कहलन कि सभो देखी कि

मध्यप्रदेश के राज्यपाल हो गइली आनन्दीबेन

गुजरात के मुख्यमंत्री रहल आनन्दीबेन पटेल के आजु मध्यप्रदेश के राज्यपाल पद के किरिया धरा दीहल गइल. किरिया धराई ओहिजा के हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति हेमन्त गुप्ता करवलन. समारोह राजभवन में आयोजित रहल. एह मौका पर लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन आ प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मौजूद रहलन. सितम्बर 2016 में पिछला

आरोपी राज्यपाल हटावे खातिर केन्द्र से जवाब मंगलसि सुप्रीम कोर्ट

मध्यप्रदेश के व्यापम घोटाला में शामिल रहे के आरोपी कांग्रेसी नेता रहल आ कांग्रेस राज में मध्यप्रदेश के राज्यपाल बनावल गइल यूपी के मुख्यमंत्री रह चुकल रामनरेश यादव के हटवावे ला दायर एगो गुहार पर सुप्रीम कोर्ट केन्द्र सरकार से जवाब मंगले बिया. राज्यपालो के नोटिस भेज के जवाब मांगल गइल बा. जान जाईं कि

दिग्विजय सिंह हार के जिम्मेदारी अपना कपारे लिहलन

भोपाल 20 दिसंबर (वार्ता) कांग्रेस महासचिव आ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री रहल दिग्विजय सिंह हाल के चुनाव में कांग्रेस के हार के जिम्मेदारी अपना कपारे लिहलन, कहलन कि उनुका उमेद रहे कि कांग्रेस 110 से लेके 120 ले सीट जीती बाकिर उनकर अनुमान गलत निकलल. कहलन कि कि मालवा आ निमाड अंचल मे उनका पार्टी के

शिवराज के तिसरका पारी शुरू भइल

भोपाल. 14 दिसंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश मे अपना लोकप्रियता के लहर प सवार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भाजपा के लगातार तिसरका बेर आ प्रचंड बहुमत से सत्ता मे ले आवे में सफल होखला का बाद आजु तिसरका बेर राज्य के मुख्यमंत्री पद के किरिया ले लिहले. किरिया लेबे के इ समारोह जम्बूरी मैदान मे राज्य भर

विधान सभा चुनाव २०१३ के खास खास खबर

वसुन्धरा राजे अपना जीत खातिर नरेन्द्र मोदी के धन्यवाद दिहली. शिवराज सिंह अपना जीत खातिर नरेन्द्र मोदी के नाम ना लिहले. छतीसगढ़ में भाजपा फेरू बहुमत में आइल. विजय कुमार मल्होत्रा के बेटा हार गइले. एएपी के मनीष सिसोदिया चुनाव जीतले. दिल्ली विढ़ानसभा अध्यक्ष योगानंद शास्त्री चुनाव हरलें. उनका के साहिब सिंह वर्मा के बेटा

छिटपुट वारदात का साथ मध्यप्रदेश मे 71 फीसदी मतदान

भोपाल 25 नवंबर (वार्ता) चउकस सुरक्षा इतजाम का बादो मध्य प्रदेश में वोट पड़े का दिने आजु दू जने के मौत हो गइल आ एक दर्जन से अधिका लोग घवाहिल हो गइल. बाकिर एकहत्तर फीसदी वोट पड़ल. पिछला दस साल से एहिजा भाजपा के सरकार बा. अबकी का चुनाव में कवनो लहर भा मुद्दा ना

ईवीएम लेके भागत कांग्रेसी मराइल

मुरैना 25 नवंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव का दौरान ईवीएम लेके भागत घरी सुमावली से कांग्रेस विधायक ऐदल सिंह कसाना के भतीजा भूरा कसाना सुरक्षाकर्मियन का गोली से मरा गइल. पुलिस बतवलसि कि सुमावली इलाका के नायत.का.पुरा गांव मे कांग्रेस प्रत्याशी ऐदल सिंह कंसाना के पैतृक घर ह. एहिजा के मतदान केद्र से ईवीएम लेके

आजु सोमार के ईवीएम मे बंद हो जाई मध्यप्रदेश के फैसला

भोपाल 24 नवंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव खातिर वोट डलवावे के सगरी काम पूरा क लीहल गइल बा. सोमार का दिने चौकस सुरक्षा का बीच सबेरे साते बजे से वोट पड़ल शुरू हो जाई आ साँझ पाँच बजे ले चली. एह चुनाव में अढ़ाई हजार से अधिका उम्मीदवारन के भाग्य के फैसला हो जाई.

भाजपा मध्यप्रदेश के 147 उम्मीदवारन के नाम के एलान कइलसि

नयी दिल्ली 31 अक्टूबर (वार्ता) मध्यप्रदेश मे लगातार तिसरका बेर सत्ता मे आवे खातिर अपना तरकश के हर तीर आजमाए मे जुटल भाजपा अपना 147 उम्मीदवारन के सूची जारी क दिहलसि. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपना पुरानके सीट बुधनी से लड़ीहे. दू गो मंत्रियन के टिकट काटल गइल बा आ तीन गो सांसदन के विधानसभा

मध्यप्रदेश मे एक नवंबर से परचा दाखिल होखे लागी

भोपाल 30 अक्टूबर (वार्ता) मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव ला परचा दाखिल करे के काम अधिसूचना जारी भइला का बाद एक नवंबर से शुरू होखी एकरा ला सगरी इंतजाम क लीहल गइल बा. अबकी 230 विधानसभा क्षेत्र खातिर रिटर्निंग आफिसर नियुक्त कइल गइल बा आ हर विधानसभा क्षेत्र में 2 गो असिस्टेंट रिटर्निंग आफिसरो तैनात भइल बाड़े.

चुनावी जंग में भाजपा व्यूह रचत बिया

नई दिल्ली 22 अक्टूबर (वार्ता) भाजपा कहत बिया कि पांच राज्यन में होखे वाला विधानसभा चुनाव मे भाजपा आ कांग्रेस का बीच .कुशासन बनाम सुशासन. के लड़ाई होखी आ लाल कृष्ण आडवाणी, राजनाथ सिंह, आ नरेन्द्र मोदी समेत सगरी बड़का नेता पूरा दम खम से चुनाव प्रचार में लगीहें. लोकसभा चुनाव से पहिले होखत एह